कानून का बेटा

केशव पंडित की जवानी जेलों में गुजरी और जेलों में उसने कानून की किताबो को घोट घोट कर पड़ा । फिर वह ऐसा शातिर बन गया कि कानून की धाराओं के बीच से सुरंगे बनाकर अपने एक एक दुश्मन का सफाया करता चला गया । लोग उसे कानून का बेटा इसलिए कहने लगे क्यूंकि वह बड़े से बड़ा जुर्म करता परन्तु भारतीय दंड विधान की किसी धरा का उलंधन नहीं करता । इसलिए सदा कानून की पकड़ से बहार रहता ।

506 thoughts on “कानून का बेटा

  1. Reed Washam

    Currently it appears like WordPress is the preferred blogging platform out there right now. (from what I’ve read) Is that what you’re using on your blog?|

  2. Jennefer Castanon

    I’m amazed, I must say. Seldom do I come across a blog that’s equally educative and interesting, and let me tell you, you’ve hit the nail on the head. The problem is something which too few people are speaking intelligently about. I am very happy I came across this in my hunt for something concerning this.|

Leave a Reply

Your email address will not be published.